क्रिसमस पर निबंध

Christmas Day Essay Hindi

Christmas Day Essay Hindi - प्रभु ईसा मसीह का जन्म बाइबिल के अनुसार परमेश्वर ने जिब्राइल नाम के सवर्गदूत को एक स्त्री जिसका नाम मरियम था उसके पास भेजा और कहा की उसका एक बेटा होगा जो राजा बनकर राज करेगा और इस बच्चे का नाम इसु था जिसका जन्म ६ ईसा पूर्व में बेथलेहम में हुआ था और उसका जन्म एक अस्तबल में हुआ था उन्होंने बहुत छोटे से ही लोगो को सही राह दिखाने का कार्य किया इस तरह जब वो 12 साल के हुए तो उन्होंने 12 आदमियों को चुना और उन्हें अपना प्रेरित बनाया ईसा मसीह ने कई चमत्कार भी किये जिसे ईश्वरका दूत नहीं बल्कि ईश्वर की संज्ञा दी गई है। उन्ही की याद में क्रिसमस मनाया जाता है।

ईसा मसीह एक महान वयक्ति थे और उन्होंने समाज को प्यार और इंसानियत की शिक्छा दी उन्होंने दुनिआ के लोगो को प्रेम और भाईचारे के साथ रहने का सन्देश देते थे उन्हें ईश्वर का एकलौता प्यारा पुत्र माना जाता है। उस समय के शासको को ईसा मसीह का सन्देश पसंद नहीं था उन्होंने ईसा मसीह को सूली पर लटका कर मार डाला था शासको द्वारा मारे जाने पर भी ईसा मसीह को नहीं मार पाए

Also read;

क्रिसमस की त्यारियां ईसाई लोग पहले से करना शुरू कर देते है। क्रिसमस के दिन ईसाई लोग अपने घर को अच्छी तरह साफ़ करते है तथा उसे भलीभांति सजाते है । क्रिसमस के अवसर पर सभी विभागों में लगभग एक सप्ताह तक छुट्टी रहती है क्रिसमस के अवसर पर बाजारों में बहुत भीड़ देखेने को मिलती है। इन दिनों बाजार की रोनक बहुत हद तक बढ़ जाती है तथा घर और बाजार रंगीन रोसनियो से जगमग उठता है ।

क्रिसमस के दिन सभी लोग चर्च जाते है। चर्च में विशेस प्राथनायें होती है लोग अपने रिश्तेदारो एवं मित्रो से मिलने उनके घर जाते है सभी एक दूसरे को उपहार देते है इस दिन आँगन में क्रिसमस ट्री लगाया जाता है इसकी विशेस प्रकार की सजावट की जाती है लोग बहुत ही अच्छी तरह से इस ट्री को सजाते है इस त्योहार में केक का विशेस महत्व होता है केक के बिना यह त्योहार अधूरा है केक काट कर खिलाने का रिवाज बहुत पुराना है इस दिन लोग केक काटकर एक दूसरे को पर्व की बधाई देते है

क्रिसमस के दिन संतकालॉज का रूप धारण कर व्यक्ति बच्चों को खूब सारी टॉफी उपहार आदि बाटते है। ऐसा कहा जाता है। की संतकालॉज उस दिन स्वर्ग से आता है। और लोगो को मनचाही चीजे उपहार के तोर पर देकर जाता है

क्रिसमस के दिन क्रिसमस ट्री को बहुत अच्छे से सजाया जाता है। क्रिसमस ट्री सजाने की यह प्रथा काफी लंबे समय से चली आ रही है इसे यीशु का प्रतीक चिन्ह भी माना जाता है इस क्रिसमस ट्री को सितारो ,गुब्बारों ,झालरों आदि से बहुत अच्छी तरह से सजाया जाता है।

क्रिसमस के दिन सांता क्लॉस का विशेष महत्व होता है। इस दिन सांता क्लॉस बच्चों को तोहफे देते हैं इस त्यौहार को बच्चे बहुत ही धूमधाम से मनाते हैं क्योंकि उन्हें सांता क्लॉज द्वारा मिलने वाले उपहारों का काफी बेसब्री से इंतजार करते हैं

इस दिन केक काटने का भी विशेष महत्व होता है। केक काटकर लोग एक दूसरे को खिलाते हैं तथा एक-दूसरे को क्रिसमस की बधाई भी देते हैं क्रिसमस के दिन गिरजाघरों में लोग प्राथना करते है मोमबत्तिया जलाते है तथा विश भी मांगते है

क्रिसमस के दिन लोग घूमने जाते हैं। क्रिसमस की छुट्टी में पूरे दिन लोग नाचते गाते हैं। पार्टी मनाते हैं। खूब सारी मस्ती करते हैं