क्वांटम कंप्यूटर क्या है, क्वांटम कंप्यूटर के लाभ और कैसे क्वांटम कंप्यूटर काम करता है?

इस लेख में आपको क्वांटम कंप्यूटर से जुड़ी अनेकों जानकारियां मिल जाएगी जैसे - क्वांटम कंप्यूटर क्या है,यह कैसे काम करता है?, इसकी विशेषताएं, उपयोग, भविष्य क्या है और क्वांटम कंप्यूटर के लाभ क्या है? इत्यादि।

दोस्तों, क्या आप क्वांटम कंप्यूटर के बारे में जानते हैं। अगर आप कंप्यूटर विज्ञान में रूचि रखते है। तो जरूर अपने "Quantum Computer" शब्द सुना होगा। यह कंप्यूटर का प्रकार है, जो किसी सामान्य कंप्यूटर से बहुत अधिक शक्तिशाली व विकसित कार्य प्रणाली पर कार्य करता है। इसे भविष्य का कंप्यूटर भी कहा जाता है।

आज टेक्नोलॉजी का तेजी से विस्तार हुआ है और हम सभी लोगो इसका प्रयोग करते है। प्रन्तु आधुनिक विज्ञान में ऐसी अनेकों समस्याएं है। जिन्हें क्लासिक या नॉर्मल कंप्यूटर द्वारा हल नहीं किया जा सकता। जिसके लिए क्वांटम कंप्यूटर का प्रयोग किया जाता है। इस लेख में आप जानेंगे कि क्वांटम कंप्यूटर क्या है? (Quantum Computer in Hindi)

इस लेख में आपको क्वांटम कंप्यूटर से जुड़ी अनेकों जानकारियां मिल जाएगी जैसे - क्वांटम कंप्यूटर क्या है,यह कैसे काम करता है?, इसकी विशेषताएं, उपयोग, भविष्य क्या है और क्वांटम कंप्यूटर के लाभ क्या है? इत्यादि।

क्वांटम कंप्यूटर क्या है | Quantum Computer in Hindi

क्वांटम कंप्यूटर भौतिक विज्ञान के क्वांटम सिद्धांत पर कार्य करने वाले कंप्यूटर होता है। जो क्वांटम सिद्धांतों की सहायता से सिस्टम को अत्यधिक तेज कार्य गति प्रदान करते है। आज के आधुनिक सुपरकंप्यूटर भी क्वांटम कंप्यूटर के सामने बहुत धीमा होता है। जिन कार्यो को सुपरकंप्यूटर हफ्तों में पूरा करता है। उन्हें क्वांटम कंप्यूटर कुछ सेकण्ड्स में समाप्त कर देता है।

क्लासिकल कंप्यूटर डाटा को स्टोर व एक्सेस करने के लिए बाइनरी डिजिट या Bit का प्रयोग करते है। जो एक समय में केवल दो मूल्य 0 या 1 को दिखा सकता है। परन्तु क्वांटम कंप्यूटर में डेटा को स्टोर व एक्सेस करने के लिए क्वांटम बिट या Qubit का प्रयोग किया जाता है। जो एक समय में 0 और 1 को एक साथ भी दिखा सकता है।

इन कंप्यूटर द्वारा एक समय में दो से अधिक मूल्य देने के कारण यह क्लासिकल कंप्यूटर की तुलना में अधिक तेज कार्य क्षमता प्रदान करता है। क्वांटम कंप्यूटर में प्रयोग होने वाले Qubit प्राकृतिक अवस्था में उपलब्द होते है। इन क्वांटम बिट को सही गुण में कार्य करने के लिए सिस्टम को शून्य डिग्री से कम तापमान पर रखा जाता है।

इन कंप्यूटर में अधिक संख्या में Qubit उपलब्द होने पर सिस्टम को ज्यादा तेज गति प्रदान होती है। इसलिए IBM द्वारा भविष्य में 1000 Qubit वाला क्वांटम कंप्यूटर बनाने की योजना की जा रही है।

रोज के व्यक्तिगत कार्यो को करने के लिए क्लासिकल कंप्यूटर बहुत अच्छे हैं। परंतु अनेकों जटिल वैज्ञानिक, रसायनिक गणनाओं को करना के लिए नॉर्मल कंप्यूटर का प्रयोग नहीं किया जा सकता है। इन जटिल गणनाओं को करने के लिए क्वांटम कंप्यूटर का प्रयोग किया जाता है। जो कुछ सेकंडो में इन्हे हलकर देते हैं।

क्वांटम कंप्यूटर की क्या विशेषताएं हैं? | Characteristics of Quantum Computer

इस कंप्यूटर की कुछ निम्नलिखित विशेषताएं हैं : -

  • क्वांटम कंप्यूटर विज्ञान के क्वांटम सिद्धांत पर कार्य करता है।
  • ये कंप्यूटर किसी सुपरकंप्यूटर की तुलना में हजारों गुना तेज होते है।
  • इन कंप्यूटर में क्वांटम बिट या Qubit का प्रयोग किया जाता है। जो एक साथ 0 और 1 वैल्यू को दिखा सकता है।
  • इस कंप्यूटर को कार्य करने के लिए शून्य डिग्री से काम तापमान पर रखा जाता है। जिसे क्वांटम बिट अपना कार्य गुण नहीं खोते है।
  • प्रत्येक क्वांटम बिट एक एटम या परमणु को दर्शाता है। जिसमे प्रस्तुत एलोक्ट्रोने और प्रोटोन की सहायता से डाटा को समझा जाता है।